भारत के EV मिशन में जुड़े Elon Musk, गुजरात में बनाएंगे Tesla का प्लांट, इस तारिक को आयेंगे भारत

हुत लंबे समय से टेस्ला कंपनी के सीईओ एलोन मस्क भारत में अपने इलेक्ट्रिक गाड़ियों को भेजने के लिए उतारू हो रहे थे मगर हमारे प्रिय नरेंद्र मोदी जी ने अंदर घुसने की इजाजत नहीं दे रहे थे और उनसे बहुत भारी मात्रा में इंपोर्ट ड्यूटी की मांग कर रहे थे।

मगर अब एलोन मस्क ने यह फाइनल कर दिया है कि वह भारत के गुजरात में उनका पहला टेस्ला का मैन्युफैक्चरिंग प्लांट स्थापित करने जा रहे हैं और यह अनाउंसमेंट नरेंद्र मोदी और टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क के द्वारा 10 12 जनवरी के आसपास एक फ्लैगशिप इवेंट में की जाएगी।

और अहमदाबाद को इस मैन्युफैक्चरिंग प्लांट के लिए इसलिए चुना गया है क्योंकि अहमदाबाद अपने बिजनेस एनवायरमेंट के लिए जाना जाता है वह साथ ही राज्य सरकार ने भी सानानंद बेचार जी और धोलेरा जैसी साइटों को ध्यान में रखते हुए नरेंद्र मोदी को यह सुझाव दिया है।

इससे पहले गुजरात महाराष्ट्र और तमिलनाडु को टेस्ला के द्वारा अपना इलेक्ट्रिक वाहन प्लांट लगाने के लिए ध्यान में रखा गया था।

tesla-may-set-up-ev-plant-in-gujarat-musk-likely-to-visit-india-next

आपकी जानकारी के लिए बता दे टेस्ला ने भारत की यूनियन गवर्नमेंट के साथ एक तिथि नेगोशिएशन के बादयह प्लांट गुजरात में लगाने का निर्णय लिया है ताकि भारत में टेस्ला की एंट्री काफी सुखद हो सके।

नवंबर महीने में यूनियन कमर्स मिनिस्टर पीयूष गोयल ने Tesla के स्टेट ऑफ द आर्ट मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी माउंट कैलिफोर्निया में दौरा किया था, गोयल ने कहा था कि वह भारतीय इंजीनियरों और फाइनेंस प्रोफेशनल को कंपनी के उच्च स्तर वाली पोजीशन पर देखकर बहुत खुश है.

Read Also:

मगर वह किसी कारणवश तब एलॉन मुस्क से नहीं मिल पाए थे और एलॉन मुस्क ने भी इसके लिए उनसे माफी मांगी थी मगर उन्होंने वादा किया था कि वह जल्द ही भारत आएंगे और एक मीटिंग करेंगे।

पहले की रिपोर्ट के मुताबिक, टेस्ला ने भारत सरकार से $40000 से कम कीमत वाली कर पर 70% कस्टम ड्यूटी और $40,000 से ज्यादा कीमत वाली कारों पर 100% छूठ की मांग की थी।

और टेस्ला की यह मांग इसलिए थी ताकि वह अपना प्लाट भारत देश में स्थापित कर सके साथ ही यह काम किए गए तारीफ सभी इलेक्ट्रिक वाहन मैन्युफैक्चरर्स पर लागू की जाएंगे।

साथ ही भारतीय मार्केट में इतनी क्षमता है कि वह 2030 तक 100 billion dollar के रेवेन्यू और 40% इलेक्ट्रिक वाहन वितरण को हासिल कर सकता है।

बेन एंड कंपनी और ब्लूम वेंचर्स की हाल ही में पेश की गई रिपोर्ट के मुताबिक यह 45% पेनिट्रेशन भारत में टू व्हीलर, थ्री व्हीलर और फोर व्हीलर मार्केट में 20% की वृद्धि के साथ आएगा।

आपका टेस्ला की भारत में एंट्री पर क्या सुझाव है नीचे कमेंट सेक्शन में लिखना ना भूले और हमारे व्हाट्सएप चैनल को लेटेस्ट अपडेट पाते रहने के लिए अभी ज्वाइन करें।

Leave a Comment